किरण बेदी ने किया भटके – विमुक्तो का अपमान पर आज़ाद मैदान में धरना प्रदर्शन

किरण बेदी गवर्नर के पद पर होते हुए देश की ११ करोड़ कि आबादी के विमुक्त घुमंतू समाज को अपराधी कहकर उनका और संविधान का अपमान किया है, किरण बेदी ने २ ऑगस्ट को अपने ट्विट में क्रिमिनल ट्राईब यानी अपराधी जातिया को खतरनाक और बहशी बता रही है | भारत में १९५२ के बाद कोई अपराधी जाती नहीं है | यह शब्द पहिली बार अंग्रेजो के समय में १८७१ में क्रिमिनल ट्राईब एक्ट में आया था | जो लोग किसी तरह अंगेजो के काबू में नही आ रहे थे उनको कंट्रोल करने के लिए यह कानून बना | इन जातियों को ठाणे में नियमित हाजिरी देनी पड़ती थी | बिना अपराध के इन्हें हिरासत में लेगे का प्रावधान था | आजादी के पाच साल बाद यह कानून समाप्त हो गया | किरण बेदी के इस ट्विट से देश के विमुक्त घुमंतू समाज के ११ करोड़ लोगो का अपमान किया है | इस पदपर किरण बेदी को रहने का कोई अधिकार नहीं | इस पद से सरकारने उन्हें तुरंत हटाना चाहिए यह मांग हम करते है. इसके विरोध में बंजारा समाज व विमुक्त घुमंतू समाज  के प्रमुख लोग ने दिनांक ४ ऑगस्ट २०१६, दोपहर को आजाद मैदान, मुंबई में किरण बेदी के विरोध में धरना प्रदर्शन किया गया, पूर्व खसांसद हरिभाऊ राठोड़ ने सरकार से मांग कि है कि किरण बेदी को संविधानिक पद से हटाया जाए और विमुक्त भटके, घुमंतू समाज से माफ़ी मांगे. इस  धरना में विमुक्त घुमंतू व भटके समाज के प्रमुख पूर्व सांसद श्री हरिभाऊ राठोड़, समाजसेवक नरेश राठोड़, गायकवाड, उल्हास राठोड़, मारुती राठोड़,अमरसिंग चव्हाण, प्रकाश राठोड़, निलेश राठोड़, गोविन्द राठोड़, राजेश चव्हाण  इत्यादि लोगो ने प्रदर्शन किया

Tag: Haribhau rathod protest against kiran bedi

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *